What is Search Engine in Hindi- सर्च इंजन क्या है? ये कैसे काम करता है


What is Search Engine in Hindi- क्या आप जानते हैं की सर्च इंजन क्या है और ये कैसे काम करता है।अक्सर जब भी हमें Internet से कोई जानकारी चाहिए होती है तो सामान्यतः हम अपना Browser open करते हैं और उस जानकारी से related query को search कर लेते हैं।लेकिन हमें ये नहीं मालुम होता की उस जानकारी को हम तक कौन  पहुंचा रहा है या फिर किस तरह से Search करने के कुछ ही seconds में हमें वो जानकारी मिल जाती है। कई बार जब किसी चीज़ की जानकरी नहीं होती तो हम कहते हैं की चलो इसे Google कर लिया जाये लेकिन सवाल ये है की आखिर ये गूगल है क्या? और ये किस तरह से किसी भी जानकारी तो हम तक आसानी से पहुंचा देता है। इसलिए आज में आपको कुछ एसी ही जरूरी बातें बताने वाला हूँ की Search Engine क्या होता है और ये काम कैसे करता है?(What is Search Engine in Hindi)


what is search engine in hindi

#1. सर्च इंजन क्या है? What Is Search Engine In Hindi

Search engine एक ऐसा computer सिस्टम है जिसे किसी भी जानकारी को Search करने के लिए बनाया गया होता है,search engines की मुख्य applications  कुछ web service हैं जहाँ पर हम world wide web की सहायता से किसी भी तरह के Text, Image, Video और किसी भी तरह की Graphic information को ढूँढ सकते हैं जैसे की ( Google, Yahoo, Bing ).इसके अलावा कुछ ऐसे भी search engines हैं जो किसी online store पर किसी  प्रोडक्ट को , और FTP server पर किसी file को search कर सकते हैं।
Search engines के द्वारा किसी जानकारी को सर्च करने को search request कहा जाता है। search इंजन का मुख्य कार्य किसी भी keyword से सम्बंधित सभी जानकारी या documents को search करके user को provide करने का होता है और इन सभी जानकारियों के लिए सर्च इंजन एक search result page को generate करता है जिसमे विभिन्न प्रकार के result जैसे की-: web pages, Images, audio, video file  आदि सम्मिलित होते हैं.
एक search engine को तभी बेहतर माना जाता है अगर  वो users की request के अनुसार ज्यादा से ज्यादा जानकारी प्रदान करे। कभी कभी किसी Algorithm या human factor की वजह से सर्च इंजन कम relevant(प्रासंगिक) हो जाते हैं. 2015 से लेकर अभी तक पूरी दुनिया में  सबसे लोकप्रिय और अधिक उपयोग किया जाने वाला सर्च इंजन Google है।

#2. Search Engine काम कैसे करता है?

सर्च इंजन internet पर किसी keyword को search करने के लिए अलग अलग प्रोग्राम्स का उपयोग करता है जिन्हें Crawlers, Spiders, Robots आदि. कहा जाता है, ये सभी प्रोग्राम्स किसी website के SEO/ qualityके अनुसार ही उसकी rank का निर्धारण करते हैं और  एक बेहतर seo और quality वाली वेबसाइट को high rank पर लाते हैं।

1. Website Submission

मान लीजिये की आपने एक website बनायीं और आप चाहते हैं की आपकी website भी search engine जैसे-Google, bing, yahoo आदि. पर दिखे तो इसके लिए आपको खुद ही सर्च इंजन को बताना होगा वो आपकी website को crawl, index करे, और ऐसा करने के लिए आपको उस search engine के webmaster tool में अपनी site को submit करना होता है। सभी search engine के अलग अलग webmaster tool होते हैं जैसे- Google search Console, Bing Webmaster Tool, yandex आदि।
Website को submit करने के साथ साथ आपको Sitemap file भी add करनी होती है जिसमे आपकी website का सभी data होता है और जब भी आप अपनी site पर कोई नया page add करते हैं तो search engine को खुद ही इस बात का पता चल जाता है। Site को submit करने के बाद आगे का काम webmaster tool के द्वारा automatically किया जाता है।

2. Crawling/Bot

इस प्रक्रिया की शुरुआत Crawling से होती है, crawler एक ऐसा प्रोग्राम होता है जो किसी web page को Scan करके उसकी सभी जानकारियां जैसे- Title, Image, keywords, Description और अन्य पेजों से Link आदि. प्राप्त  कर लेता है। Modern crawlers पुरे पेज़ की एक cache copy प्राप्त लेते हैं और साथ ही साथ कुछ अतिरिक्त जानकारी जैसे-: Page layout, Links, Ad units आदि. का भी पता लगा लेते हैं।

किस तरह से एक Website को Crawl किया जाता है? दरअसल जिस तरह से हम किसी web page पर visit करते हैं ठीक उसी तरह से एक Automated Bot या spider हर एक web page पर visit करता है, लेकिन इनकी speed कुछ एसी होती है की ये एक सेकंड में 100 से भी ज्यादा website को crawl कर लेते हैं।
इसके बाद crawler उन सभी page की link को एक list में जोड़ देता है ताकि उस page में कोई भी बदलाव होने पर उसे Re-Crawl किया जा सके.crawling एक एसी प्रक्रिया है जो कभी भी ख़त्म नहीं होती।

3. Indexing

Crawling की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद अगली Process Indexing/इंडेक्सिंग कहलाती है।
इस प्रक्रिया में सर्च इंजन द्वारा जिस भी Web page को crawl किया जाता है तो crawling के बाद उसे Search result page में index कर दिया जाता है यानिकि वो website या पेज indexing के बाद Search Results में add हो जाता है।

उदाहरण के तौर पर-: मान लीजिए कि आप ने कुछ किताबें खरीदीं और आप उनकी एक list बनाना चाहते हैं जैसे कि- Author का नाम, पेजों की संख्या आदि। तो जब आप सभी किताबों से जानकारी ले रहें है तो सर्च इंजन की भाषा मे आप उन्हें crawl कर रहें हैं और जब आप उन किताबों की list लिख रहें है तो इसका मतलब है कि आपने किताबों को index कर लिया है।

दूसरे शब्दों में कहे तो Indexing का मतलब है की जब कोई Search engine किसी Website को crawl करता है तो इसके तुरंत बाद सर्च इंजन उस वेबसाइट या पेज को जमा करके अपने Database में store/संग्रह कर लेता है और उस पेज से संबंधित कोई भी search query आने पर उसे Search result pages में जोड़ देता है। अब किस पेज या रैंक पर वो वेबसाइट आएगी ये निर्भर करता है उस वेबसाइट के Seo और quality पर, आपको ये जानकर हैरानी होगी कि गूगल हर 10 सेकंड में लगभग 100-1000 वेबसाइट को crawl और index कर लेता है।

4. User Query

User query अर्थात जब कोई व्यक्ति Search engine पर जाकर manually रूप से किसी भी तरह की जानकारी या query को सर्च करता है। सर्च इंजन की भाषा इन queries को Keyword कहा जाता है। ये keywords सर्च इंजन को इनसे मिलते जुलते या इनसे संबंधित कीवर्ड को ढूंढने में मदद करते हैं।

5. Matching Query

जब कोई व्यक्ति किसी Query को सर्च करता है तो search engine उसे अपने Database में stored सभी Pages से match/मिलाते हैं ताकि user को ठीक वो ही जानकारी मिल सके जिसे वो ढूंढ रहा है। यहां पर keywords की एक अहम भूमिका होती है यानिकि जिस भी query को सर्च किया जाता उसमे मौजूद सभी कीवर्ड की मदद से उस query से संबंधित जानकारी को ढूंढा जाता है।

6. Retrieving results

जब सभी relevant pages match हो जाते हैं तो उन्हें search engine result pages(SERP’s) में add करके display किया जाता है। और user को उसके Query के अनुसार सभी जानकारी मिल जाती है। इन्टरनेट पर Search engine के database में करोड़ों web pages मौजूद होते हैं, हर page अलग अलग keywords से सम्बंधित होता है.
ऐसे में search engines की algorithm निर्धारित करती है किस page को पहले , दुसरे, तीसरे नंबर पर rank करना है और इसके लिए search engine 200 से भी ज्यादा factors को ध्यान में रखते हुए किसी page को चुनता है जैसे की उस पेज की quality, keywords, seo, backlinks, Meta tags आदि.



इसलिए जब भी कोई user किसी query को search करता है तो अलग अलग तरह की algorithms अपना काम शुरू कर देती है और सबसे ज्यादा Relevant pages को user के सामने display कर देती है, और चौकाने वाली बात ये है की इस प्रक्रिया को पूरा होने में सिर्फ कुछ ही सेकंड्स लगते हैं.

#3. सबसे ज्यादा Popular search Engines कोनसे हैं?

वैसे तो internet पर बहुत सारे सर्च इंजन मौजूद हैं लेकिन इनमे से कुछ ही ऐसे हैं जिनका उपयोग सबसे अधिक होता है।

1. Google-: 
गूगल को लगभग सभी लोग जानते हैं और ये अभी तक का सबसे लोकप्रय/popular और सबसे ज्यादा use किया जाने वाला सर्च इंजन है। Google एक american multinational company है इसे larry page और sergey brin ने 4sept. 1998 में बनाया था। Alexa के अनुसार Google दुनिया की सबसे ज्यादा देखी और visit की जाने वाली वेबसाइट है जिस पर हर महीने लगभग 1,600,000,000 यूज़र्स visit करते हैं और इसके अलावा गूगल के बहुत से प्रोडक्ट्स हैं तो Top 100 में शामिल हैं जैसे -; Youtube, Blogger आदि।

2. Bing-: 
गूगल के बाद दूसरे नंबर पर आता है Bing सर्च इंजन, जिस पर हर महीने लगभग 400,000,000 visitors विजिट करते हैं। Bing search engine को Microsoft कंपनी द्वारा खरीदा गया है और इसी के द्वारा operate किया जाता है। Bing भी गूगल की ही तरह सभी जानकारियां जैसे-: Text, Audio, Video, Image आदि provide करता है, Alexa  के अनुसार Bing दुनिया मे 42वें नंबर पर आने वाली Website है और इसे 2008 में develop किया गया था।

3. Yahoo!Search-: 
इस list में तीसरे नंबर पर आने वाला सर्च इंजन है yahoo जिस पर 300,000,000 लोग हर महीने विजिट करते हैं। और alexa के अनुसार ये 6वें नंबर पर शामिल है।
इनके अलावा कुछ अन्य सर्च इंजन जैसे-: Ask, Baidu, Aol  आदि. Search engine भी इंटरनेट पर अपनी लोकप्रियता बनाये हुए हैं।

तो ये थी आज की पोस्ट जिसमे मैंने आपको बताया की What is Search Engine In Hindi या Search Engine क्या है और ये कैसे काम करता है? , मुझे उम्मीद है की अब आप जान गए होंगे की आखिर ये चीज़ होती क्या है और कैसे  काम करती है। अगर आपको पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे Share जरूर कीजियेगा और किसी भी तरह के अन्य सवाल के लिए आप बेझिझक होकर निचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।


EmoticonEmoticon